पाकिस्तान से क्रिकेट या कोई खेल संबंध समाप्त करने की मांग गलत हैः तेजस्वी यादव

Pulwama Attack, Kashmir Terror Attack, CRPF, Pakistan, CCS, PM Narendra Modi, Ajit Doval, Rajnath Singh, Jaish-e-mohammad, India Wants REvenge, Pulwama Terror Attack, cricket, Tejaswi yadev, India-pakistan cricket match पुलवामा अटैक, पुलवामा, पुलवामा टेरर अटैक, पीएम नरेंद्र मोदी, अजित डोभाल, सीआरपीएफ, पाकिस्‍तान, सीसीएस, एनआईए, राजनाथ सिंह, जैश-ए-मोहम्‍मद, क्रिकेट, तेजस्वी यादव, भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच

पुलवामा में सीआपीएफ के काफिले पर हुए हमले में शहीदों की चिताएं अभी ठीक से ठंडी भी नहीं हुई होगी और ना ही उनके परिवार अपनी रोजमर्रा की जीवनशैली की पुनःशुरुआत कर पाएं होंगे. पर भारत की राजनीति में शहीदों की चिताओं पर अपनी सियासत की रोटीयां सेकना कोई आम बात नहीं है, यह हमेशा से होता आया है और शायद आगे भी होता आएगा.

जिसका ताजा उदाहरण बने है बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव जिन्होंने शहीदों की शहादत से कोई इतेफाक नहीं है बस है तो भारत पाकिस्तान के क्रिकेट की.

हाल ही में बीसीसीआई ने आईसीसी से मांग की वह वर्ल्ड कप 2019 में भारत के साथ पाकिस्तान के होने वाले जून के मैच को निरस्त कर दे . जिसपर बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने ब्यान जारी कर कहा की वह भारत का पाकिस्तान से क्रिकेट या कोई खेल संबंध समाप्त करने की मांग को सही नहीं मानते हैं. उन्होंने कहा, “हम पुलवामा हमले की कड़ी निंदा करते हैं और हम चाहते हैं कि इसका जवाब दिया जाए, लेकिन यह भी उचित नहीं है कि दो देश इसकी वजह से साथ नहीं खेल सकते हैं.

तेजस्वी यादव ने पटना में अपनी निजी प्रेस वार्ता में पत्रकारों से बातचीत करते हुए क्रिकेट विश्वकप में भारत-पाकिस्तान मैच के संबंध में पूछे जाने पर कहा कि खिलाड़ी खेल भावना के साथ खेलते हैं और अपने देश के लिए खेलते हैं, लेकिन किसी कलाकार और खेल पर प्रतिबंध लगाना उचित नहीं है. उल्लेखनीय है कि पुलवामा में आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच हर तरह का संबंध तोड़ देने की मांग कई लोग कर चुके हैं.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help