पीयूष गोयल जी-20 की मंत्रिस्तरीय बैठक लेंगे हिस्सा

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग और रेल मंत्री पीयूष गोयल 8-9 जून को जापान के इबाराकी प्रान्त के त्सुकुबा शहर में व्यापार और डिजिटल अर्थव्यवस्था पर होने वाली जी-20 की मंत्रिस्तरीय बैठक में हिस्सा लेंगे.

भारत के वाणिज्य मंत्री वैश्विक व्यापार की स्थिति से संबंधित विभिन्‍न घटनाक्रमों, विश्व व्यापार संगठन से जुड़े मुद्दों और डिजिटल व्यापार पर चर्चा करेंगे. वह वर्तमान अंतर्राष्ट्रीय व्यापार और निवेश के मुद्दों पर अन्य प्रतिभागी देशों के व्यापार मंत्रियों के साथ भी बातचीत भी करेंगे.

यह बैठक भारत के लिए अहम इसलिए भी है क्योंकि इस बार पहली बार इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री और वाणिज्य मंत्री जी-20 की मंत्रिस्तरीय बैठक के दौरान डिजिटल अर्थव्यवस्था पर आयोजित किए जाने वाले एक संयुक्त सत्र में भाग लें रहें है. उल्लेखनीय है कि जब से जी-20 का गठन हुआ है तभी से भारत इसकी बैठकों में सक्रिय रूप से भाग लेता रहा है. वैसे तो जी-20 में कोई बाध्यकारी प्रतिबद्धता नहीं है, लेकिन यह बहुपक्षीय व्यापार संबंधों के लिए एजेंडा निर्धारित करता है.

Narendra modi ministry, railway ministers of india, piyush goyal, g20, piyush, government of india, world, organizations, clean energy ministerial, ajay goyal, germany, indonesia, turkey, france, ministry of electronics and information, पीयूष गोयल, जी-20, जापान में जी-20, India News in Hindi, Latest India News Updates

यह उम्मीद की जा रही है कि डिजिटलीकरण से हमारी अर्थव्यवस्थाओं के साथ-साथ समाज भी निरंतर लाभान्वित होगा और इसके साथ ही समावेशी, अभिनव एवं मानव केंद्रित भावी समाज यथा ‘समाज 5.0’ का विकास सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी.

जी-20 में दरअसल 19 देश और यूरोपीय संघ (ईयू) शामिल हैं। 19 देश ये हैं: अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, रूसी संघ, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, ब्रिटेन और संयुक्त राज्य अमेरिका. शामिल है. जी-20 के सदस्य देश दुनिया के दो-तिहाई लोगों और इसकी 85 प्रतिशत अर्थव्यवस्था का प्रतिनिधित्व करते हैं

 

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help