सियासती शह मात के खेल में चित हुए पी चिंदबरम

P Chidambaram, inx media, case, amit shah, home minister, Gujarat

कहते है समय बड़ा बलवान होता है इसका पहिया जब घूमता है तो हर इंसान को उसके अच्छे बुरे दिनों की याद दिला ही देता है. ऐसा ही कुछ आज देश के पूर्व वित्त मंत्री पी चिंदबरम और वर्तमान गृह मंत्री  अमित शाह सोच रहे  होंगे कि 10 साल पहले जिस कुर्सी पर अमित शाह आज है  उस कुर्सी पर 9 साल पहले पी चिंदबरम  बैठे थे. तारीखें अलग अलग थी पर सीन वही था, किरदार अलग अलग थे, 2010 के उस सीन में CBI के साथ अमित शाह थे तो कल की तारीख में CBI के साथ पी चिदंबरम थे.

INX मीडिया मामले में पी चिंदबरम को  दिल्ली हाईकोर्ट ने अग्रिम जमानत देने से मना कर दिया और वह सुप्रीम कोर्ट की शरण में हैं. दूसरी ओर ईडी और सीबीआई उन्हें गिरफ्तार करने के लिए तैयार थी. करीब 10 साल पहले कुछ ऐसा ही मौजूदा गृह मंत्री अमित शाह के साथ हुआ था, जब एजेंसियां उनके पीछे पड़ी थीं. लेकिन अब समय बदल गया है और खेल भी बदल गया है.

यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान जब पी. चिदंबरम देश के गृह मंत्री थे, उस वक्त सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर मामला चरम पर था और इसी मामले में अमित शाह पर कार्रवाई की गई थी. 25 जुलाई 2010 को सीबीआई ने अमित शाह को गिरफ्तार भी किया था और जेल में डाल दिया था. चिदंबरम 29 नवंबर, 2008 से 31 जुलाई 2012 तक देश के गृह मंत्री रहे थे.

आपको बता दें कि पी. चिदंबरम पर INX मीडिया मामले में रिश्वत लेने का आरोप है. दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को उन्हें अग्रिम जमानत देने से इनकार कर दिया, जिसके बाद उनपर गिरफ्तारी की तलवार लटकी है. चिदंबरम अग्रिम जमानत लेने के लिए सुप्रीम कोर्ट की शरण में हैं.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help