शिवसेना ने तोड़ी 60 साल पुरानी परंपरा, आदित्य ठाकरे को लड़ाएंगे वर्ली सीट से

Maharashtra assembly elections 2019, assembly elections 2019, Sanjay Raut on CM, Aditya Thackeray, Aditya Thackeray News, BJP Shiv Sena

आगामी हरियाणा – मुंबई  के विधानसभा चुनावों के लिए  मुंबई में शिवसेना ने 60 साल पुरानी अपनी परंपरा को तोड़ दिया है व उद्धव ठाकरे ने अपने बेटे आदित्य ठाकरे को मुंबई की वर्ली सीट से उम्मीदवार बनाया है.

भले ही शिवसेना  ने चुनावों में मोदी लहर देख कर बीते दिनों भाजपा के साथ गठबंधन की सरकार लाने पर अपनी सहमति दर्ज  करवा  ली है पर आदित्य ठाकरे को अपना तुरुप का पत्ता बता कर उसे वर्ली सीट से चुनाव मैदान में उतारने पर शिवसेना की मंशा साफ जाहिर हो रहे है, कि इस बार विधानसभा के चुनावों में  पार्टी की नजर मुख्यमंत्री की कुर्सी पर है. इस बीच शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने कहा है कि भले ही चंद्रयान 2 लैंड नहीं कर पाया लेकिन सीएम दफ्तर आदित्य ठाकरे जरूर पहुंचेंगे.

राउत ने वर्ली विधानसभा क्षेत्र में एक जनसभा में कहा, “कुछ तकनीकी कारणों से चंद्रयान-2 चांद पर लैंड नहीं हो सका, लेकिन हमें विश्वास है कि यह सूरज (आदित्य ठाकरे) 21 अक्टूबर को मंत्रालय के छठे फ्लोर (मुख्यमंत्री कार्यालय) तक जरुर पहुंचेगा.” वर्ली सीट पर शिवसेना जीतती रही है. फिलहाल सुशील शिंदे इस सीट से विधायक हैं.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में शिवसेना और बीजेपी ने गठबंधन कर चुनाव लड़ने का फैसला किया है. लेकिन अभी तक सीटों पर सहमति नहीं बनी है. शिवसेना महाराष्ट्र की 288 सीटों में से आधे सीटों पर लड़ने की बात कह रही है. लेकिन बीजेपी ने उसके प्रस्ताव को खारिज कर दिया है.

साल 2014 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी और शिवसेना अलग-अलग चुनाव लड़ी थी. उस वक्त बीजेपी 122 सीटें जीतने में कामयाब रही थी जब कि शिवसेना को 63 सीटें मिली थीं. 2014 के चुनाव में कांग्रेस 42 सीटें और एनसीपी 41 सीटें जीतने में कामयाब रही थी.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help