वाराणसी से पीएम मोदी ने दाखिल किया नामांकन पत्र

दो चरणों के मतदान के बाद अब बारी तीसरे चरण की लेकिन उससे पहले देश को चला रहे पीएम की को लेकर चुनावी माहौल गुरुवार से ही काफी गर्माया हुआ है  सियासती दाव पेंचों के बीच लोकसभा चुनावों के सातवें चरण में होने वाले वाराणसी लोकसभा सीट के लिए  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वाराणसी से नामांकन दाखिल करेंगे. इस सीट से वह दूसरी बार चुनाव लड़ रहे हैं. प्रधानमंत्री ने नामांकन के लिए रवाना होने  से पहले काशी के कोतवाल कहे जाने वाले काल भैरव के दर्शन-पूजन किए. मोदी शुभ मुहूर्त में अपना नामांकन दाखिल कर चुके है.

नामांकन के लिए मोदी ने  आज का दिन इसलिए चुना क्योंकि आज अभीजीत मुहूर्त  का भी योग है जिसका समय 11.30 से शुरू हो रहा है. बीजेपी सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी  ने अपने नामांकन की प्रक्रिया की शुरुआत 11.30 बजे के बाद की थी. क्योंकि 11.30 के बाद पूरे दिन शुभ मुहूर्त है.

बनारसी पंडितों के मुताबिक आज अभीजीत मुहूर्त का भी योग है. इस मुहूर्त में किए गए काम अत्यंत शुभ और सफल साबित होते हैं. इसी कारण पीएम मोदी ने कलक्ट्रेट के राइफल क्‍लब स्थित नामांकन स्‍थल पर अपना पर्चा शुभ मुहूर्त में  दाखिल कर लिया.

पिछली बार की तरह इस बार भी प्रधानमंत्री मोदी के नामांकन के लिए चार प्रस्तावक खास तौर पर उनके साथ मौजूद रहें.

पीएम मोदी के चार प्रस्तावकों में रमाशंकर पटेल हैं जो एक साइंटिस्ट हैं. दूसरे प्रस्तावक अन्नपूर्णा शुक्ला हैं जो मदन मोहन मालवीय की मानस पुत्री है. वहीं पीएम मोदी के तीसरे प्रस्तावक जगदीश चौधरी (डोमराजा ) और चौथे प्रस्तावक सुभाष गुप्ता हैं जो पार्टी के सबसे पुराने कार्यकर्ता हैं. ये सभी नामांकन प्रक्रिया में पीएम के साथ शामिल रहें.

बता दें कि साल 2014 के चुनावों में पिछली बार गिरिधर मालवीय, शास्त्रीय गायक छन्नू लाल मिश्र, मल्लाह समुदाय से भद्रा प्रसाद निषाद और बुनकर समाज से अशोक कुमार प्रधानमंत्री मोदी के प्रस्तावक बने थे.

11.30 बजे वाराणसी में नामांकन दाखिल किया

गौरतलब है कि लोकसभा चुनावों की महत्तम को समझते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज दिन के 11.30 बजे वाराणसी लोकसभा सीट से नामांकन दाखिल करेंगे. पीएम मोदी के नामांकन के समय कई दलों के बड़े नेता उनके साथ मौजूद रहेंगे. इनमें बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू चीफ नीतीश कुमार, अकाली दल के अध्यक्ष प्रकाश सिंह बादल, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और एलजेपी प्रमुख रामविलास पासवान प्रमुख हैं. कार्यक्रम में अन्ना द्रमुक, अपना दल और उत्तर-पूर्व के विकास के प्रति समर्पित संगठन नेडा के सहयोगी दलों के नेता भी उपस्थित रहेंगे.

 

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help