दूसरे शाही स्नान को लेकर तीर्थो के राजा की नगरी में कड़ी की गई सुरक्षा व्यवस्था

Kumbh 2019, kumbh mela 2019, kumbh 2019 prayagraj, juna akhara, kumbh mela allahabad, prayagraj kumbh mela 2019, कुंभ 2019 प्रयागराज, प्रयागराज कुंभ, कुंभ 2019, Prayagraj Photos, Latest Prayagraj Photographs, Prayagraj Images, Latest Prayagraj photos

4 फरवरी 2019 को मौनी अमावस्या का उत्सव मनाया जाएगा. मौनी अमावस्या के दिन सूर्य तथा चन्द्रमा गोचरवश मकर राशि में आते हैं इसलिए यह दिन एक संपूर्ण शक्ति से भरा हुआ और पावन अवसर बन जाता है इस दिन मनु ऋषि का जन्म भी माना जाता है. इसलिए भी इस अमावस्या को मौनी अमावस्या कहा जाता है. मकर राशि, सूर्य तथा चन्द्रमा का योग इसी दिन होता है अत: इस अमावस्या का महत्व और बढ़ जाता है. इस दिन पवित्र नदियों व तीर्थ स्थलों में स्नान करने से पुण्य फलों की प्राप्ति होती है.

इस दिन व्यक्ति विशेष को मौन व्रत रखने का भी विधान रहा है, वहीं तीर्थनगरी प्रयाग का मेला अपने पूरे रंग में चढ़ चुका है. साधना, आराधना और पुण्य की चाह में रोजाना लाखो लोग संगम में डुबकी लगा रहे हैं. पहला शाही स्नान हो गया है, दूसरे की जोरदार तैयारी चल रही है. उम्मीद है कि डेढ़ करोड़ श्रद्धालु मौनी आमावस्या पर स्नान करने आएंगे.

कुंभ क्षेत्र में प्रवेश करते ही तीर्थयात्रियों को अबकी भूलभुलैया से होकर गुजरना पड़ेगा. बिना इसे पार किए संगम पर पहुंचना मुश्किल होगा. भीड़ को नियंत्रित करने के लिए प्रशासन ने इसे बनवाया है. लगभग 70 हजार बल्लियों की मदद से बनवाए गए इस मकड़जाल में 200 मीटर की दूरी को पूरा करने में श्रद्धालुओं को 4 किलोमीटर चलना पड़ेगा. अब देखना है कि यूपी पुलिस के जरिए प्रयागों के राजा की इस नगरी में कुंभ को लेकर की गई इस सुरक्षा बल्लियों के चक्र को किस तरह अभेद किले में तब्दील होकर सुरक्षा को और पुख्ता बनाएंगे.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help