मासूम आसिफा को मिला इंसाफ, 6 आरोपियों को दोषी करार

Kathua Case, Kathua Rape case, Pathankot district and session court, कठुआ दुष्कर्म कांड, पठानकोट जिला और सत्र न्यायालय ,#topnews

पिछले साल जम्मू-कश्मीर के बहुचर्चित कठुआ दुष्कर्म व हत्या के मामले में  फैसला आ  चुका है. पठानकोट के जिला एवं सत्र न्यायालय में सुनवाई पूरी कर ली गई है, जिसमें 6 आरोपियों को दोषी करार दिया गया है. बता दें कि यह सुनवाई सातों आरोपित, अभियोजन और बचाव पक्ष के वकील सुबह 11 बजे अदालत पहुंच गए थे और उसके बाद सुनवाई शुरू हुई.

फैसले की संभावना को देखते हुए कठुआ में और पठानकोट में सुरक्षा बढ़ा दी गई है ताकि किसी भी तरह की स्थिति से निपटा जा सके.

क्या था कठुआ गैंग रेप

बता दें कि, जम्मू कश्मीर के कठुआ की हीरानगर तहसील के एक गांव में 10 जनवरी 2018 को आठ साल की बच्ची पशु चराते वक्त गायब हो गई थी. तीन दिन बाद उसका शव एक धार्मिक स्थल के पास मिला था.

परिवार की शिकायत पर दीपक कुमार, प्रवेश कुमार, विशाल जंगोत्रा, एसपीओ सुरेंद्र कुमार, एसपीओ आनंद दत्ता , कांस्टेबल तिलक राज, सांझी राम व एक नाबालिग पर दुष्कर्म, हत्याकांड, षड्यंत्र रचने, सुबूत मिटाने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया था.

जिसमें  विशाल जंगोत्रा को बरी कर दिया गया व अन्य 6 को  दोषी करार दिया है ,जिसके बाद थोड़ी देर में पटियाला जिला एवं सत्र न्यायालय कठुआ केस में 6 आरोपियों को सजा का ऐलान भी कर सकती है.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help