करतारपुर कॉरिडोर पर भारत के आगे झुका पाक, बिना वीजा के दर्शन कर पाएंगे सिक्ख श्रद्धालु

Kartarpur, Gopal Singh Chawla, Kartarpur talks, India Pakistan, Kartarpur corridor, India, Pakistan, pro-Khalistan, Indian delegation

रविवार को हुई करतारपुर कॉरिडोर  को लेकर दूसरे दौर की वार्ता को लेकर पाकिस्‍तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैसल के नेतृत्व में 20 पाकिस्‍तानी अधिकारियों का प्रतिनिधिमंडल वार्ता अटारी वाघा बार्डर पर हुई. इस बैठक में  कॉरिडोर बनने का आगे का रास्ता साफ हो गया.

बैठक में पाकिस्तान ने रोजाना 5000 श्रद्धालुओं को करतारपुर जाने की इजाजत दे दी. खास मौके पर कितने श्रद्धालु दर्शन कर पाएंगे, इसका फैसला बाद में होगा. पाकिस्तान ने भारतीय श्रद्धालुओं को पूरी सुरक्षा देने की भी गारंटी दी है. दरबार साहिब के दर्शन के लिए भारतीय श्रद्धालुओं को वीजा की जरूरत नहीं होगी.

क्या है करतारपुर कॉरिडोर

आपकी जानकारी के लिए बता दे यह कॉरिडोर करीब 4.70 किलोमीटर लंबा है. इसका निर्माण श्री करतारपुर गुरुद्वारा साहिब में दर्शन के लिए जाने वाले सिख श्रद्धालुओं के लिए किया जा रहा है. इससे भारत से प्रतिदिन पांच हजार श्रद्धालु श्री करतारपुर साहिब जा सकेंगे. इस कॉरिडोर का शुभारंभ श्री गुरु नानकदेव जी के 550वें प्रकाशोत्‍सव के अवसर पर इस साल नवंबर में होगा. श्री गुरु नानकदेव जी का 550वां प्रकाशोत्‍सव 12 नवंबर को है.

उल्लेखनीय है कि इसी कॉरिडोर की नींव के लिए पाक ने भारत को न्यौता दिया था, जिसके फलस्वरूप हरसिमरत कौर कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंची वही, कांग्रेस  के नेता नवजोत सिंह सिंद्धु भी पहुंचे इसे लेकर राजनीतिक गलियारों में उनकी काफी किरकिरी हुई थी

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help