सेना ने जाहिर की हिममानव ‘येति’ के होने की संभावना

पौराणिक कथाओं से जुड़े येति के होने की बात अब भारतीय सेना ने भी मान ली है . सेना ने अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट पर हिममानव के होने की संभावना को व्यक्त किया है. बता दें कि लंबे समय से हिम मानव की मौजूदगी को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जाते रहे हैं.

कई बार लोगों  के जरिए दुनिया भर में हिम मानव ‘येती’ को देखे जाने की घटनाएं सामने आती रही हैं. ये मान्यता सदियों से चली आ रही है कि हिममानव हिमालय में बनी गुफाओं में आज भी रहते हैं। हालांकि, अभी तक इसकी मौजूदगी को लेकर कोई ठोस सबूत सामने नहीं आया था, लेकिन अब  पहली बार भारतीय सेना ने हिममानव ‘येती’ की मौजूदगी को लेकर बड़ा दावा किया है.

भारतीय सेना ने पहली बार हिममानव की मौजूदगी को लेकर सबूत पेश किया है. दरअसल, सेना को हिमालय में हिममानव ‘येति’ के पैरों निशान मिले हैं, जिसे उन्होंने ट्वीटर पर शेयर किया है. तस्वीरों में बर्फ पर पैरों के बड़े-बड़े निशान दिखाई दे रहे हैं. माना जा रहा है कि ये निशान हिममानव ‘येती’ के पैरों के ही हैं. भारतीय सेना ने कुल तीन तस्वीरें शेयर की हैं.

सेना ने ट्वीट में कहा, ‘पहली बार भारतीय सेना पर्वत रोहण अभियान दल ने 09 अप्रैल, 2019 को मकालू बेस कैंप के करीब 32×15 इंच वाले ‘येति’ के रहस्यमयी पैरों के निशान देखे हैं. इस मायावी हिममानव को इससे पहले केवल मकालू-बरुन नेशनल पार्क में भी देखा गया.

कौन होते है येति

बता दें कि हिम मानव येति हिमालय में रहने वाला सबसे रहस्यमयी प्राणी है. येति को ज्यादातर नेपाल और तिब्बत के हिमालय क्षेत्र में देखे जाने की घटना सामने आती रही है. हालांकि, इन दावों को लेकर वैज्ञानिक एकमत नहीं हैं.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help