घाटी में बंद इंटरनेट सेवा बहाली को लेकर तहसीन पूना वाला की याचिका पर आज सुनावाई

news,national,Article370, सुप्रीम कोर्ट, Unconstitutional government move, Supreme Court, ML Sharma, Jammu Kashmir,News,National News national news hindi news,

घाटी से अनुच्छेद 370 के कुछ अंश व 35 ए को पूरी तरह से हटाए जाने के बाद से भले ही घाटी में शांति है पर इस शांति को पूरी तरह से बनाएं रखने के लिए सरकार ने घाटी में इंटरनेट सेवा को बंद कर रखा है, पर ईद उल अदा के मौके पर घाटी में इस पाबंदी में हल्की ढील दी गई जिसमें लोगों ने ईद को हर्षोल्लास के साथ मनाया व अपने रिश्तेदारों को ईद की बधाई दी.

सरकार की इसी कार्रवाई को लेकर सासंद रहें तहसीन पूना वाला ने  सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल कर जल्द सुनवाई की मांग रखी थी, जिसे लेकर  जम्मू-कश्मीर में प्रतिबंध और कर्फ्यू हटाए जाने तथा मोबाइल व इंटरनेट सेवा शुरू करने की मांग पर सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को सुनवाई करेगा.

न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, एमआर शाह और अजय रस्तोगी की पीठ पूनावाला की याचिका पर सुनवाई करेगी. तहसीन पूनावाला की याचिका में जम्मू-कश्मीर में कर्फ्यू और प्रतिबंध हटाए जाने और मोबाइल व इंटरनेट सेवाएं बहाल करने की मांग की गई है साथ ही याचिका में हिरासत में लिये गए नेताओं को तत्काल रिहा करने की भी मांग की गई है.

गुरुवार को इस याचिका पर कोर्ट से जल्दी सुनवाई मांगी गई थी जिस पर कोर्ट ने मामले को अगले सप्ताह सुनवाई पर लगाए जाने के लिए मुख्य न्यायाधीश के सामने पेश करने का आदेश दिया था.

मालूम हो कि राष्ट्रपति ने आदेश जारी कर जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाला प्रावधान अनुच्छेद 370 समाप्त कर दिया है. इतना ही नहीं जम्मू-कश्मीर को दो केन्द्र शासित प्रदेशों में बांट दिया गया है.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help