लेखक अमिताव घोष सम्मानित होंगे साहित्य ज्ञानपीठ पुरस्कार से

writer, Amitav Ghosh, literature award, Gyan Peeth award,Indian poet, Gyanpeeth Award, sahitya award, साहित्य ज्ञानपीठ पुरस्कार ,अंग्रेजी साहित्य, ज्ञानपीठ आवार्ड News,National News ,hindi news, AVM news

भारतीय साहित्य के लिए दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार इस बार अंग्रेजी के प्रख्यात लेखक अमिताव घोष को दिया जा रहा है, इस पुरस्कार की घोषणा सहित्य चयन समिति ने एक सार्वजनिक बैठक में घोष को 54 साहित्य ज्ञानपीठ पुरस्कार से नवाज़े जाने का ऐलान किया है.

बता दें कि घोष ने अब तक अंग्रेजी साहित्य में अपनी कलम का हुनर दिखाते हुए दी सर्किल ऑफ़ रीज़न, इन एन एंटीक लैंड, दी कलकत्ता क्रोमोजोम, दी शैडो लाइन्स, डांसिंग इन कंबोडिया, दी ग्लास पैलेस, दी हंग्री टाइड और इबिस ट्राइलॉजी : सी ऑफ़ पॉपिस एवं रिवर ऑफ़ स्मोक जैसे बेहतरीन उपन्यास लिखकर पाठकों के बीच अपनी एक अलग पहचान बनाई है.

ज्ञानपीठ आवार्ड से पहले भी अमिताव घोष को उनकी किताब दी सर्किल ऑफ़ रीज़न ने फ्रांस के मुख्य साहित्यिक अवार्ड प्रिक्स मेडिसिस अवार्ड जीता था. इसके बाद दी शैडो लाइन्स ने साहित्य अकादमी अवार्ड और अनंदा पुरस्कार भी जीता है. उनकी एक और किताब दी कलकत्ता क्रोमोजोम ने 1997 आर्थर सी. क्लार्क अवार्ड जीता था. उनके उपन्यास, सी ऑफ़ पॉपिस को 2008 के मैन बुकर प्राइज के लिए नामनिर्देशित भी किया गया था.
इसके अलावा 20 नवम्बर 2016 को मुंबई लिट्फेस्ट के टाटा लिटरेचर लाइव में घोष को लाइफटाइम अचीवमेंट के अवार्डसे सम्मानित किया गया था.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help