अमृता प्रीतम पंजाब की मिट्टी की पहली लेखिका

Google Celebrates Amrita Pritam Birthday,Amrita Pritam Birthday,Amrita Pritam 100th Birth Anniversary,Google Doodle Amrita Pritam Birthday,Amrita Pritam Poems ,Amrita Pritam Quotes,Amrita Pritam Quotes in Hindi,अमृता प्रीतम,अमृता प्रीतम का जन्मदिन,अमृता प्रीतम का 100वां जन्मदिवस,अमृता प्रीतम का 100वीं बर्डथे एनिवर्सरी,अमृता प्रीतम गूगल डूडल,गूगल डूडल अमृता प्रीतम,Amrita Pritam Google Doodle

अमृता प्रीतम  पंजाब की मिट्टी में जन्मी एक ऐसी लेखिका जिनके उपन्यास में पंजाब की मिट्टी की सुगंध हमेशा से मौजूद रही है. अमृता प्रीतम को देश की बेहतरीन महिला लेखकों में से एक माना गाया है, , खड़ंग भाषा के रुप में पंजाबी को हमेशा से देखा गया है, पर इसी खड़ंग भाषा को कलम की स्याही के साथ कागज़ के पन्नों में बड़ी साफगोई से उतार देना इसमें अमृता प्रीतम को महारत हासिल थी इसी वजह से उन्हें पंजाब की पहली महिला लेखिक होने का गौरव भी हासिल था.

उन्होंने कुल मिलाकर लगभग100 पुस्तकें लिखी हैं जिनमें उनकी चर्चित आत्मकथा ‘रसीदी टिकट’ भी शामिल है. अमृता प्रीतम उन साहित्यकारों में थीं जिनकी कृतियों का अनेक भाषाओं में अनुवाद हुआ है.  अपने अंतिम दिनों में अमृता प्रीतम को भारत का दूसरा सबसे बड़ा सम्मान पद्म विभूषण भी प्राप्त हुआ. उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार से पहले ही  नवाजा जा चुका था. इनकी कई कहानियों पर आधारित टीवी सीरियल बने और उपन्यास पर आधारित फ़िल्में भी बनी. पिंजर फ़िल्म इन्हीं के उपन्यास पर आधारित हैं.

16 साल की उम्र में उनकी पहली किताब ‘अमृत लहरें’ प्रकाशित हुई. इसके अलावा उन्हें मुहब्बत को जीने के तरीके को लेकर अक्सर याद किया जाता रहेगा. मुहब्बत की दुनिया में आज भी अमृता प्रीतम का नाम सबसे ऊपर आता है। अपने शब्दों को कलम से धार देकर कागजों पर उतारने वालीं अमृता प्रीतम का आज 100वां जन्मदिवस है। गूगल ने भी डूडल बनाकर अमृता प्रीतम को सम्मान दिया है,

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help