पुस्तक प्रेमियों के लिए लगा दिल्ली पुस्तक मेला 2019

दिल्ली पुस्तक मेला 2019

आपको पुस्तक पढ़ना पसंद है और पुस्तकों की दुनिया में जाते ही आप खो जाते है, क्योंकि किताबों के रंगीन कवर आपको अपनी तरफ खींचते है और कहते एक बार हमें उठा कर खोल कर पढ़ तो ले जरा, और आप अपने दिल की बात मान कर उन किताबों को  घंटों तक जब तक पढ़ते है जब तक आप उसे पूरा पढ़ नहीं लेते.

अगर आप इसी प्रकार के पुस्तक प्रेमी है तो 11 सितंबर से 15 सितंबर तक चलने वाला पुस्तक प्रेमियों के लिए किताबों के मेले का आगाज बुधवार को प्रगति मैदान में हो गया है. फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स (एफआईपी) की ओर से आयोजित इस मेले में सवा सौ से ज्यादा प्रकाशक और कंपनियां अपनी किताबें लेकर पहुंचे हैं.

बुधवार को मेले का उद्घाटन इंडिया ट्रेड प्रमोशन ऑर्गनाइजेशन (आईटीपीओ) के कार्यकारी निदेशक राजेश अग्रवाल ने किया. इस दौरान एफआईपी के अध्यक्ष आर.के मित्तल, आईटीपीओ के महाप्रबंधक आशुतोष वर्मा और प्रकाशक मौजूद थे.

इस बार इस मेले की थीम ‘150 साल : महात्मा गांधी’ को बनाया गया है. इस मेले के साथ ही स्टेशनरी फेयर की शुरुआत भी हो गई है. प्रगति मैदान में पुस्तक और स्टेशनरी मेला 15 सितंबर तक चलेगा.

इसका उद्देश्य पढ़ने की संस्कृति को विकसित करते हुए व्यापार को बढ़ावा देने के लिए अनुकूल वातावरण प्रदान करना है. इसमें ऑन द स्पॉट पेटिंग प्रतियोगिताएं, सेमिनार व अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे। मेले में प्रवेश निशुल्क रखा गया है.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help