बीजेपी मुक्त भारत के लिए कांग्रेस और बसपा के बीच महागठबंधन

congress, assembly election 2018, rahul gandhi, mahagathbandhan, madhya pradesh, rajasthan, chhattisgarh, narendra modi, amit shah, bjp, nda,मायावती, महागठबंधन, कांग्रेस, अखिलेश यादव, mayawati, Congress, bsp, BJP, 2019 चुनाव, 2019 elections, india News, india News in Hindi, Latest india News, india Headlines, भारत समाचार,avm news

बीजेपी भारत का सपना देखने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व इस बार भाजपा को विधानसभा चुनावों में करारा झटका लगा है क्यों कि जहां राजस्थान और मध्य प्रदेश में कांग्रेस गठबंधन के साथ सरकार बनाने की कवायद तेज हो रही है, वही छत्तीसगढ़ में वह पूरी तरह सत्ता में आ चुकी है.

वहीं दूसरी तरफ 2019 लोकसभा चुनाव से पहले तीन राज्यों की सत्ता से बेदखल हो जाना भारतीय जनता पार्टी के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है. कांग्रेस ने राजस्थान और छत्तीसगढ़ को जीत लिया है, वहीं मध्य प्रदेश में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी तो है, मगर बहुमत के आंकड़े से 2 सीट दूर रह गई है. राजस्थान में कांग्रेस को 99 सीटें मिली हैं मगर अजीत सिंह की पार्टी आरएलडी ने अपनी एक सीट से समर्थन देना का वादा किया है, जिससे यह तह है कि कांग्रेस बहुमत के लिए 100 का आंकड़ा छू लेगी और आसानी से सरकार बना लेगी.
वहीं छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने बीजेपी को क्लीन स्वीप कर दिया है. मध्य प्रदेश में बीजेपी और कांग्रेस के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला, कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. मध्य प्रदेश में कांग्रेस को 114 सीटें और बीजेपी को 109 सीटें मिली हैं. आज राजस्थान में कांग्रेस विधायक दलों की बैठक है और कांग्रेस सरकार बनाने का दावा कर सकती है और अपने मुख्यमंत्री का चेहरा भी चुन सकती है.

गौरतलब है कि बसपा प्रमुख मायावती ने बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी मध्य प्रदेश में भाजपा को सत्ता से बाहर रखने के लिए कांग्रेस का समर्थन करेगी. मायावती ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो बसपा कांग्रेस को राजस्थान में भी सरकार बनाने के लिए समर्थन देगी. मायावती ने यहां कहा, ‘‘हम कांग्रेस की विचारधारा से सहमत नहीं हैं लेकिन भाजपा को सत्ता से बाहर रखने के लिए हम उनको समर्थन देंगे.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help