SEBI ने किया दो कमोडिटीज कंपनी को नॉट ‘फिट एंड प्रॉपर करार

NSEL scam,business news,India Infoline,stock news,sebi,stock market news,Motilal Oswal,National Spot Exchange,NSEL

ग्राहकों के जरिए चुकाई जाने वाले कीमतों को बिना बढ़ाए कृषि व्यापार प्रक्रिया में संरचनात्मक सुधार करने वाली संस्था एएसईएल पर आजकल ग्रहण के बादल छाएं हुए है. बता दें कि एनएसईएल मामले में दो बड़े ब्रोकरों पर एक बार फिर से गाज गिरी है. ये दोनों ब्रोकर हैं मोतीलाल ओसवाल कमोडिटीज और आईआईएफएल कमोडिटीज.

सेबी ने इन दोनों कमोडिटीज कंपनी को नेशनल स्पॉट एक्सचेंज (NSEL) घोटाले में बड़ी कार्रवाई करते हुए कमोडिटी एवं शेयर बाजार नियामक सेबी (SEBI) ने कहा है कि मोतीलाल ओसवाल कमोडिटीज ब्रोकर (Motilal Oswal Commodities Broker) और इंडिया इन्फोलाइन (India Infoline Commodities) फिट नहीं हैं. रेगुलेटर ने इन दोनों को नॉट ‘फिट एंड प्रॉपर करार दिया है. जिसका अर्थ है कि वह ट्रेड मार्केट में व्यापार नहीं कर सकती है.

सेबी ने अपने ऑर्डर में दोनों ब्रोकरों को कमोडिटी मार्केट में ट्रेडिंग के लिए फिट और प्रॉपर नहीं माना है. ये दोनों ब्रोकर कमोडिटी मार्केट में ट्रेडिंग नहीं कर पाएंगे.

इस बाबत मोतीलाल ओसवाल कमोडिटीज ने कहा है कि सेबी के इस फैसले को कोर्ट में चुनौती दी जाएगी. एनएसईएल मामले में कंपनी के 58.7 करोड़ रुपये फंसे हैं. इस फैसले से निवेशकों और शेयरधारकों का कोई नुकसान नहीं होगा. फैसले का ग्रुप की कंपनियों पर भी कोई असर नहीं होगा.

ट्रेडस्विफ्ट ब्रोकिंग के डायरेक्टर संदीप जैन के मुताबिक सेबी की इस सख्ती का ब्रोकर्स के खुद के कारोबार के साथ उनके ग्राहकों पर भी असर होगा. सोमवार को इंडिया इनफोलाइन और मोतीलाल ओसवाल दोनों कंपनियों के शेयरों में गिरावट संभव है.

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help