सपनों और होसलों की ताकत को पहचानिए और बढ़ चलिए ऊंचे गगन की ओर

freedom of speech,success,success quotes,success tips, success life,Success story,Avm news

 

जिंदगी हर कदम पर आपका इम्तिहान लेती है हर मोड़ पर आपके हुनर को  आजमाया जाता है और आगे भी आजमाया जाता रहेगा. पर क्या इस आजमाइश में आप अपने हुनर को और तराश पाएंगे ? या फिर लकीर के फकीर बनने पर ही विशवास करेंगे.???

अक्सर माना गया है कि आप जब भी सफल होने लगते है तो आपकी सफलता में अनेक रोड़े उतर आते है, जो आपको सफलता की सीढ़ी पर चढ़ने से यकायक रोक लेते है, मानो ऐसा लगता है कि  कोई पीछे से आपकी सफलता की सीढ़ी पर चढ़कर आपके पैरों को ज़ोर से पीछे की तरफ खींच रहा है.

इस तरह का एहसास आपको तब होता है, जब आप अपनी सफलता को छूने से सिर्फ चंद कदमों की दूरी पर रहते है. अक्सर वहीं इंसान आपकी सफलता पर हंसता है, जिसे सफलता के मायने ही नहीं पता होते , क्योंकि सफलता की खुशी अगर पूछनी है तो उस परिंदे से पूछों, जो बरसों की कैद में छटपठाते हुए अपने पंखो से उड़ने की लालसा रखता है, जो हर उस आहट पर अपने पंख फड़फड़ाने लगता है जो उसके पिजरे में दानी पानी डालने के लिए आगे बढ़ता है.

यदि कही वह आहट अचानक पिजरे के दरवाजे बंद करना भूल जाएं तो पंछी की आस को ताकत मिलती है और उसके पंखो को हौसलो की उड़ान .  वो बस उस मौके का फायदा उठा कर उंचे गगन की उंची उड़ान भरता है ताकि वह बहेलिया रुपी असफलता की निराशा उससे कोसो दूर रहें. क्योंकि कहते है

 

मंजिलें उन्ही को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है

                                                       पंखो से कुछ नहीं होता हौसलों से उडान होती है.

 

इसलिए कहते है बस सपनों और होसलों की ताकत को पहचानिए और बढ़ चलिए उंचे गगन की उंची सैर पर जहां से आपको  असफलता से मिली निराशा को सफल बनाने की उर्जा मिले, जिस से किसी भी असफल सीढ़ी पर अचानक रुकने का डर ना रहे.

 

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help